Home News बुरे फंसे नेताजी, महिला ने गले पड़कर बना लिया वीडियो, फिर मांगे...

बुरे फंसे नेताजी, महिला ने गले पड़कर बना लिया वीडियो, फिर मांगे 1 करोड़, पिंड छुड़ाकर भागे, जानें कौन हैं

Place you ad

सवाई माधोपुर. सवाई माधोपुर की कोतवाली थाना पुलिस ने खिरणी नगरपालिका चेयरमैन हनीट्रेप केस का पर्दाफाश कर दिया है. पुलिस ने हनीट्रेप गैंग के सभी सदस्यों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर ली है. हनीट्रेप मामले को लेकर खिरणी नगरपालिका चेयरमैन रूपसिंह डाई ने 29 अप्रेल को कोतवाली थाने में आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी. पुलिस ने इस मामले में महिला समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

पुलिस के अनुसार खिरणी चेयरमैन रूपसिंह सिंह डोई ने अपनी रिपोर्ट बताया था कि एक महिला ने उनके मोबाइल पर रात 9 बजे फोन कर मिलने के लिए बुलाया. उसने धमकी दी कि तुम्हारी अश्लील क्लीप बना ली है. अगर तुम नहीं आए तो क्लीप वायरल कर तुम्हारा राजनीतिक करियर बर्बाद कर दूंगी. इससे डरे डाई महिला से मिलने निकल पड़े. लेकिन महिला ने बार बार फोन कर करीब चार घंटे तक डाई को उलझाए रखा. इस दौरान डाई यहां-वहां भटकाते रहे. उसके बाद महिला ने चेयरमैन को बम्बोरी चौराहा स्थित रिलायंस पेट्रोल पंप के पास एक मकान में मिलने के लिए बुलाया.

एक करोड़ रुपये की डिमांड की
चेयरमैन के वहां पहुंचने पर उनको वह महिला वहां मिल गई. इस दौरान मकान पर पहले से मौजूद महिला के साथियों ने चेयरमैन का जबरन महिला के साथ वीडियो बना लिया. फिर चेयरमैन को एक कमरे में बंद कर दिया. आरोपियों ने चेयरमैन की जेब से 23 हजार रुपये और गले में पहनी सोने निकाल ली. उसके बाद उससे एक करोड़ रुपये फिरौती की मांग की. अचानक हुए घटनाक्रम से चेयरमैन घबरा गया.

चेयरमैन के परिजनों के आने पर आरोपी भाग छूटे
उसने रुपये के इंतजाम के लिए दो जगह फोन किया लेकिन पार नहीं पड़ी. उसके बाद आरोपी चेयरमैन को सूनसान जगह पर ले गए. इस दौरान चेयरमैन ने वहां मौजूद अपने समाज के एक व्यक्ति को अपने विश्वास में लिया और मौके की लोकेशन परिजनों को भेज दी. चेयरमैन के अपहरण की लोकेशन मिलने के बाद परिजन मौके पर पहुंच गए. चेयरमैन के परिजनों को देख अपहरणकर्ता उनको छोड़कर भाग खड़े हुए.

चेयरमैन कोतवाली पहुंचे और केस दर्ज कराया
आरोपियों के चंगुल से छूटने के बाद चेयरमैन सीधे कोतवाली थाने पहुंचे. वहां उन्होंने आरोपियों के खिलाफ हनीट्रेप और अपहरण का केस दर्ज कराया. कोतवाली थानाधिकारी राजवीर सिंह ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक ममता गुप्ता को अवगत कराया गया. उसके बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय सिंह मीणा और सीओ सिटी हेमेन्द्र शर्मा के सुपरविजन में पुलिस टीमों का गठन किया गया.

पुलिस ने इन आरोपियों को किया गिरफ्तार
पुलिस टीम ने अपने मुखबिर तंत्र एवं मोबाइल लोकेशन और तकनीकी सहायता से आरोपियों को धरदबोचा. पुलिस ने इस मामले में अभय निवासी कैमरी, प्रमेन्द्र निवासी बाड़ोलास, मुनेश निवासी माणौली, उदय सिंह निवासी माणौली और सुनीता निवासी गंभीरा हाल निवासी खेरदा को गिरफ्तार कर लिया है.

Tags: Honeytrap, Rajasthan news, Sawai madhopur news

p>- The Rajdhani Times (Follow us On Google News)

Follow us on Google News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here