Home बिजनेस Budget 2024 | PM मोदी ने बजट को बताया ‘समावेशी और इनोवेटिव’, जानें और किसने की प्रशंसा – The Rajdhani Times

Budget 2024 | PM मोदी ने बजट को बताया ‘समावेशी और इनोवेटिव’, जानें और किसने की प्रशंसा – The Rajdhani Times

0
Budget 2024 | PM मोदी ने बजट को बताया ‘समावेशी और इनोवेटिव’, जानें और किसने की प्रशंसा – The Rajdhani Times

Loading

नई दिल्ली: देश की नई संसद में आज यानी गुरुवार 1 फरवरी को निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का आखिरी बजट पेश किया। आज सीतारमण ने अपनी घोषणओं में महिलाओं, किसानों, व्यापारियों से लेकर हर दूसरे लोगों की जिंदगी बेहतर करने की बात की।  

हालांकि ये पूर्ण बजट नहीं था। आम चुनाव से महज कुछ महीने पहले पेश हुआ ये महज अंतरिम बजट था। भारत सरकार का दावा है कि वह देश को 2027 तक दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना देगी। इसी लक्ष्य को आधार बना आज सरकार ने बजट पेश किया। आज इस बजट को लेकर कई बड़े नेताओं ने इस पर अपनी प्रशंसा व्यक्त की है। आइये दिखें आज किसने क्या कहा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतरिम बजट पर कहा, “आज का यह बजट अंतरिम बजट तो है ही लेकिन यह समावेशी और इनोवेटिव भी है। यह बजट विकसित भारत के चार स्तंभ- युवा, गरीब, महिला, किसान सभी को सशक्त करेगा। यह बजट देश के भविष्य के निर्माण का बजट है।”

उन्होंने यह भी कहा कि, “आज इस बजट में किसानों के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण और बड़े निर्णय लिए गए हैं। NANO DAP का उपयोग, पशुओं के लिए नई योजनाएं, PM मत्स्य संपदा योजना के विस्तार और आत्मनिर्भर ऑयल सीड अभियान से किसानों की आय बढ़ेगी और खर्च कम होगा। आज इस बजट में किसानों के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण और बड़े निर्णय लिए गए हैं। NANO DAP का उपयोग, पशुओं के लिए नई योजनाएं, PM मत्स्य संपदा योजना के विस्तार और आत्मनिर्भर ऑयल सीड अभियान से किसानों की आय बढ़ेगी और खर्च कम होगा।”

उनका कहना था कि,  “गरीबों के लिए हमने गांव और शहरों में 4 करोड़ से अधिक घर बनाए हैं अब हमने 2 करोड़ और नए घर बनाने का लक्ष्य रखा है। हमने 2 करोड़ महिलाओं को लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य रखा था, अब इस लक्ष्य को बढ़ाकर 3 करोड़ कर दिया गया है।”

वहीं केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने अंतरिम बजट पर कहा, “वित्त मंत्री के बजट का उद्देश्य भारत को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के PM मोदी के संकल्प के अनुरूप भारत के आर्थिक क्षेत्र को मजबूत करना है…यह देश के विकास को गति देने और रोजगार बढ़ाने वाला बजट है।”

नेशनल कॉन्फ्रेंस प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने अंतरिम बजट पर कहा, “असली बजट तो आगामी जुलाई में आएगा। हम उम्मीद करते हैं कि पर्यटन बढ़े। हमें उम्मीद है कि उद्योग भी बढ़ेंगे और देश प्रगति करेगा। “

वहीँ आज केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि, “वित्त मंत्री ने बहुत ही उत्साहवर्धक अंतरिम बजट पेश किया।2047 का जो रोडमैप है, उसे हम हासिल करेंगे। हमें पूरा विश्वास है।” इस अंतरिम बजट केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि, “यह एक ऐतिहासिक बजट है जो पूर्ण रूप से परिलक्षित करता है कि PM मोदी के नेतृत्व में भारत विकसित, आत्मनिर्भर, विश्व गुरु बनने के लक्ष्य के प्रति गति के साथ आगे बढ़ चुका है। यही समय है, सही समय है।”

निर्मला के अंतरिम बजट पर केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने कहा कि, “सब कुछ ‘विकसित भारत’ के लिए होगा। भारत की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए इस बजट में हर बात पर चर्चा की गई है।”

वहीं केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा, “इस बजट में ‘विकसित भारत’ के लिए स्थापित किए गए सभी चार स्तंभों- किसान, युवा, गरीब और महिलाएं शामिल थे। पीएम आवास योजना के तहत 2 करोड़ और मकान स्वीकृत करना, ‘लखपति दीदी’ स्वयं सहायता समूहों के लिए 3 करोड़ की संख्या तय करना, ऐसी कई योजनाएं बताती हैं कि एक तरफ जहां कल्याणकारी योजनाएं हैं, वहीं दूसरी तरफ बुनियादी ढांचे के विकास जैसी व्यय योजनाएं भी हैं।”

केंद्रीय मंत्री राजीव चन्द्रशेखर ने अंतरिम बजट पर कहा, “यह बजट पिछले 10 वर्षों में भारतीय अर्थव्यवस्था के गुणात्मक और मात्रात्मक परिवर्तन का एक उत्कृष्ट सारांश है।”

केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा, “…इस बजट के जरिए यह स्पष्ट हुआ है कि 2047 तक भारत दुनिया का सबसे विकसित देश बनेगा क्योंकि हर बिंदु पर इसके संकेत मिल रहे हैं कि कैसे भारत विकास यात्रा पर तेजी से आगे बढ़ रहा है। देश की जनता के विकास के लिए यह बजट बहुत महत्वपूर्ण है।”गौरतलब है कि, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अंतरिम बजट पेश करते हुए केंद्र की मोदी सरकार की कई उपलब्धियों को आज गिनाया है। 

– The Rajdhani Times

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here